Monday, August 15, 2022
04
01
03
A1
previous arrow
next arrow
Shadow
Homeराज्यउत्तराखंडठगों ने खाते से उड़ये आठ लाख रुपये, जानें पुलिस की सक्रियता...

ठगों ने खाते से उड़ये आठ लाख रुपये, जानें पुलिस की सक्रियता से कैसे वापस हुई रकम

SPECIAL OFFERS IN GURUMAA ELECTRONICS

एफएनएन, नैनीताल : साइबर क्राइम की समय से सूचना मिलने पर नैनीताल पुलिस भी हरकत में आई और पुलिस के प्रयासों से पीड़ित के खाते में आठ लाख की रकम वापस हो गई। पुलिस के इस प्रयास की सभी तरफ सराहना की जा रही है। पीड़ित के खाते से साइबर अपराधियों ने आठ लाख रुपये उड़ा दिए थे। पुलिस के मुताबिक सुरेश चन्द्र भट्ट पुत्र स्व पदमादत्त भट्ट निवासी विदरामपुर चकलुवा कालाढूंगी जिला नैनीताल ने क्राईम सैल के हेल्पलाइन नंबर 8171200003 पर 02 जून 2021 को शिकायत दर्ज कराई थी। बताया गया कि उन्होंने shine.com (नौकरी पोर्टल) पर पूर्व में रजिस्ट्रेशन किया था। इसकी सर्विस उपलब्ध न कराने के कारण उनके मोबाइल नंबर पर पैसा रिफंड करने का एक फोन आया। साथ ही फोन करने वाले ने कहा कि उसकी मेल पर एक लिंक भेजा जा रहा है। उसमें रिफंड फार्म भरने के साथ ही 10 रुपये का भुगतान कर देना। बताया गया कि उसने अपने कोटक महेन्द्रा बैंक के डेबिट कार्ड से 10 रुपये का भुगतान किया। इसके पश्चात उससे दो खातों से अलग अलग तीन लाख रुपये व पाँच लाख रुपये निकाल लिए गए। इस मामले में विवेचना में साईबर सैल टीम ने अति कार्यवाही करते हुए पीड़ित के खातो की ट्रांजैक्शन डिटेल लेकर कोटक महेन्द्रा बैंक से पत्राचार किया। बैंक की ओर से जानकारी दी गई कि pay-u गेटवे के माध्यम से राशि निकाली गई। इस पर पुलिस ने pay-u गेटवे से सम्पर्क कर पीड़ित के खाते से उसी दिन ही तीन लाख रुपये निकासी से रुकवा दिए। ठगी गयी शेष धनराशि पांच लाख के संबंध में संबंधित गेटवे से लगातार पत्राचार किया गया। इस पर 17 जून को गेटवे से पांच लाख रुपये की धनराशि को रुकवाया गया। पुलिस के मुताबिक अपराधियों की लोकेशन पता कर ली गई है। शीघ्र ही साइबर ठगों के गिरोहों को गिरफ्तार किया जायेगा।

  • पुलिस की अपील

नैनीताल पुलिस ने आमजन से अपील की है कि अज्ञात व्यक्ति के कॉल और मेसेज से सावधान रहें। किसी को भी अपना Password, OTP, CVV शेयर ना करें। अन्जान लिंक, ऑनलाइन जॉब ऑफर से संबंधित लिंक पर क्लिक ना करें। अन्जान QR कोड स्कैन ना करें। जागरुक बनें एवं अन्य व्यक्तियों को भी जागरुक करें। यदि कोई भी व्यक्ति ठगी का शिकार होता है तो वह तत्काल नजदीकी थाना व साईबर सैल के मोबाइल नंबर- 8171200003 पर सूचना देने में हिचक न करें।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CommentLuv badge
- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

Recent Comments