Thursday, October 28, 2021
2-Bansal
4-MountLitera
1-Gurumaa-Dental-Care-scaled
6-Akansha
5-JilaPanchyat
previous arrow
next arrow
Shadow
2-Bansal
4-MountLitera
1-Gurumaa-Dental-Care-scaled
6-Akansha
5-JilaPanchyat
previous arrow
next arrow
Shadow
Home राज्य उत्तराखंड वतन नहीं लौटना चाहते जीबी पंत विवि में पढ़ने वाले अफगानी छात्र,...

वतन नहीं लौटना चाहते जीबी पंत विवि में पढ़ने वाले अफगानी छात्र, सता रही परिवार की चिंता

एफएनएन, देहरादून : अफगान-इंडो संयुक्त फेलोशिप के तहत जीबी पंत कृषि एवं प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय में स्नातकोत्तर शिक्षा ग्रहण कर रहे अफगानिस्तान के चार छात्रों की डिग्रियां लगभग पूरी होने वाली हैं पर अफगानिस्तान के मौजूदा हालात के चलते वे वतन नहीं लौटना चाहते, जबकि उनके पासपोर्ट और वीजा की तिथि भी समाप्ति की ओर है। ऐसे में विश्वविद्यालय व देश के लिए अफगानिस्तान के छात्र एक समस्या और जिम्मेदारी बनकर सामने आए हैं। छात्र तीन महीनों से अपने परिजनों से बातचीत भी नहीं कर पाए हैं, जिसकी वजह से वे उनकी कुशलता को लेकर भी चिंतित हैं।

विवि में अफगानी छात्र मुस्तफा सुल्तानी की एमएससी की डिग्री पूरी हो चुकी है। उन्हें विवि से सभी प्रमाणपत्र जारी हो चुके हैं और वह वतन लौटने के लिए जिला प्रशासन से नोड्यूज के लिए प्रयासरत हैं, पर इसी बीच अफगानिस्तान पर तालिबान के कब्जे की खबर ने इन्हें परेशान कर दिया है। अब ताजा हालात में ये छात्र फिलहाल वहां जाना नहीं चाहते हैं। ऐसी ही स्थिति एमएससी के छात्र हजरत शाह अजीजी, पीएचडी छात्र हाशिमी की भी है। वहीं सेमेस्टर ब्रेक में अपने वतन गए एमएससी छात्र अब्दुल वहाब अफगानिस्तान में ही हैं, ऐसे में उनकी कुशलता को लेकर भी साथी छात्र चिंतित हैं। इन छात्रों ने बताया कि वर्तमान परिस्थितियों के चलते अफगान सरकार से फेलोशिप प्राप्त करना मुश्किल होगा, जिससे उन्हें इंडिया में रहने सहित आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ेगा। उन्होंने बताया कि अफगानिस्तान में अस्थिरता के माहौल के चलते संचार व्यवस्था बहुत समय से ध्वस्त है, जिसके चलते वे लोग तीन महीने से परिजनों से संपर्क नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने विवि प्रशासन, जिला प्रशासन और भारत सरकार से उम्मीद जताई कि ने उनकी हरसंभव सहायता करेंगे।

 

RELATED ARTICLES

पंचवटी स्टेट को राहत, सैकड़ों चेहरे खिले, डीएम के फैसले पर हाइकोर्ट की रोक

एफएनएन, रुद्रपुर : पंचवटी स्टेट प्रोजेक्ट को लेकर जिलाधिकारी ऊधमसिंह नगर द्वारा पारित आदेश पर उच्च न्यायालय ने रोक लगा दी है। इससे सैकड़ों...

मंडी समिति अध्यक्ष बनते ही ‘ अमीर ‘ हो गए केके दास, कई वर्षों से बीपीएल कार्ड का ले रहे थे लाभ, अब एपीएल...

एपीएल कराकर भी फंस गए मंडी अध्यक्ष केके दास कंचन वर्मा, रुद्रपुर : मंडी समिति रुद्रपुर का अध्यक्ष बनते ही केके दास गरीब से...

हरिद्वार से शिमला जा रही एचआरटीसी की बस पलटी, कुछ लोगों को आई चोटें

एफएनएन, देहरादून : गुरुवार सुबह हरिद्वार से शिमला जा रही एचआरटीसी की बस हरिपुर-मीनस मार्ग पर कोटा-क्वानू के पास अनियंत्रित होकर सड़क पर पलट गई।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

पंचवटी स्टेट को राहत, सैकड़ों चेहरे खिले, डीएम के फैसले पर हाइकोर्ट की रोक

एफएनएन, रुद्रपुर : पंचवटी स्टेट प्रोजेक्ट को लेकर जिलाधिकारी ऊधमसिंह नगर द्वारा पारित आदेश पर उच्च न्यायालय ने रोक लगा दी है। इससे सैकड़ों...

मंडी समिति अध्यक्ष बनते ही ‘ अमीर ‘ हो गए केके दास, कई वर्षों से बीपीएल कार्ड का ले रहे थे लाभ, अब एपीएल...

एपीएल कराकर भी फंस गए मंडी अध्यक्ष केके दास कंचन वर्मा, रुद्रपुर : मंडी समिति रुद्रपुर का अध्यक्ष बनते ही केके दास गरीब से...

हरिद्वार से शिमला जा रही एचआरटीसी की बस पलटी, कुछ लोगों को आई चोटें

एफएनएन, देहरादून : गुरुवार सुबह हरिद्वार से शिमला जा रही एचआरटीसी की बस हरिपुर-मीनस मार्ग पर कोटा-क्वानू के पास अनियंत्रित होकर सड़क पर पलट गई।...

मुख्यमंत्री धामी ने बदरीनाथ धाम पहुंचकर की भगवान बदरीनाथ की विशेष पूजा-अर्चना

एफएनएन, गोपेश्‍वर :  मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को बदरीनाथ धाम पहुंचकर भगवान बदरीनाथ की विशेष पूजा-अर्चना करते हुए देश और प्रदेश की...

Recent Comments