Tuesday, October 26, 2021
2-Bansal
4-MountLitera
1-Gurumaa-Dental-Care-scaled
6-Akansha
5-JilaPanchyat
previous arrow
next arrow
Shadow
2-Bansal
4-MountLitera
1-Gurumaa-Dental-Care-scaled
6-Akansha
5-JilaPanchyat
previous arrow
next arrow
Shadow
Home राज्य उत्तराखंड हवाई यात्र‍ियों को बड़ी राहत, वैक्सीन की दोनों डोज लगने के बाद...

हवाई यात्र‍ियों को बड़ी राहत, वैक्सीन की दोनों डोज लगने के बाद कोविड रिपोर्ट जरूरी नहीं

एफएनएन, रुद्रपुर : मुंबई व कोलकाता जाने वाले यात्रियों के लिए राहत भरी खबर है। कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज लगवाने वाले लोग बिना आरटी-पीसीआर के ही सफर कर सकेंगे। इसके लिए उन्हें केवल वैक्सीन लगवाने का प्रमाण पत्र अपने साथ रखना होगा।नया निर्देश आने के बाद गोरखपुर से मुंबई व कोलकाता जाने वाले यात्रियों की संख्या बढ़ गयी है।

  • महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल सरकार ने लगाई थी रोक

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल सरकार ने बाहर से आने वाले यात्रियों के लिए आरटी-पीसीआर अनिवार्य कर दिया था। महराष्ट्र जाने वाले लोगों को 48 घंटे और पश्चिम बंगाल जाने वालों को 72 घंटे पहले का रिपोर्ट साथ लेकर जाना था।

  • कम हो गई थी मुंबई व कोलकाता जाने यात्रियों की संख्या

गोरखपुर से मुंबई के लिए तीन व कोलकाता के लिए एक विमान रोजाना उड़ान भरते हैं। कोरोना वैक्सीन की दोनों लगवाने वाले लोगों के लिए भी आरटी-पीसीआर अनिवार्य था। इसकी वजह से मुंबई व कोलकाता जाने यात्रियों की संख्या कम हो गई थी।

  • एयरपोर्ट निदेशक ने दी जानकारी

नागरिक उड्डयन मंत्रालय की पहल पर महाराष्ट्र और पश्चिम बंगाल सरकार ने कोरोना की दोनों वैक्सीन लगवा चुके लोगों को राहत दी है। एयरपोर्ट निदेशक प्रभाकर बाजपेई ने बताया कि जिन लोगों को वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी हैं और दूसरी डोज लिए हुए 15 दिन हो चुके हैं, निगेटिव आरटी-पीसीआर रिपोर्ट ले जाने से छूट दी गई है।

  • करना होगा कोविड प्रोटोकाल का पालन

आरटी-पीसीआर रिपोर्ट ले जाने से छूट मिलने के बाद भी सभी लोगों को कोविड काल का पालन करना होगा।हर समय कोविड उपयुक्त व्यवहार (मास्क पहनना, हाथ को बार-बार धुलना, शारीरिक दूरी बनाए रखना आदि) का पालन करना होगा।जिन लोगों ने वैक्सीन की दोनों डोज नहीं लगवाया है उन्हें अब 48 की वजह 72 घंटे पहले की आरटी-पीसीआर निगेटिव रिपोर्ट सफर करते समय अपने पास रखना होगा।

RELATED ARTICLES

आपदा के कारण ऊधमसिंह नगर जिले में 45 हजार हेक्टेयर धान की फसल बर्बाद

एफएनएन, रुद्रपुर : बारिश व बाढ़ के चलते धान की तैयार फसल आपदा की भेंट चढ़ गई। कुमाऊं में करीब 46 हजार हेक्टेयर फसल...

कांग्रेस का अलग-अलग रुख, उत्तर प्रदेश में महिलाओं पर दांव, उत्तराखंड में परहेज

एफएनएन, देहरादून : मातृशक्ति के सक्रिय आंदोलन की वजह से अस्तित्व में आए उत्तराखंड राज्य में महिलाओं को 40 फीसद या ज्यादा टिकट पर...

सिडकुल पंतनगर के सीईटीपी प्लांट में प्लांट हेड समेत तीन कर्मचारियों की गिरकर मौत

एफएनएन, रुद्रपुर : पंतनगर सिडकुल में स्थित सीईटीपी प्लांट में प्लांट हेड समेत तीन लोगों की अमोनिया गैस से दम घुटने और डूब कर...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

आपदा के कारण ऊधमसिंह नगर जिले में 45 हजार हेक्टेयर धान की फसल बर्बाद

एफएनएन, रुद्रपुर : बारिश व बाढ़ के चलते धान की तैयार फसल आपदा की भेंट चढ़ गई। कुमाऊं में करीब 46 हजार हेक्टेयर फसल...

कांग्रेस का अलग-अलग रुख, उत्तर प्रदेश में महिलाओं पर दांव, उत्तराखंड में परहेज

एफएनएन, देहरादून : मातृशक्ति के सक्रिय आंदोलन की वजह से अस्तित्व में आए उत्तराखंड राज्य में महिलाओं को 40 फीसद या ज्यादा टिकट पर...

सिडकुल पंतनगर के सीईटीपी प्लांट में प्लांट हेड समेत तीन कर्मचारियों की गिरकर मौत

एफएनएन, रुद्रपुर : पंतनगर सिडकुल में स्थित सीईटीपी प्लांट में प्लांट हेड समेत तीन लोगों की अमोनिया गैस से दम घुटने और डूब कर...

स्वयं सेवक संघ ने आपदा प्रभावितों को बांटा सामान

एफएनएन, रूद्रपुर : आपदा पीड़ितों की मदद के लिए स्वयं सेवक संघ के कार्यकर्ताओं ने हाथ बढ़ाते हुए रविवार को शहर की कई बस्तियों...

Recent Comments