Thursday, May 19, 2022
krishna
sarso
04
01
03
previous arrow
next arrow
Shadow
Home राज्य उत्तर प्रदेश प्रधानमंत्री ने अयोध्या से किया देश को संबोधित, बाेली ये बड़ी बात

प्रधानमंत्री ने अयोध्या से किया देश को संबोधित, बाेली ये बड़ी बात

SPECIAL OFFERS IN GURUMAA ELECTRONICS

एफएनएन, अयोध्या: अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर की आधारशिला रखने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभा को संबोधित किया। मोदी आज अपने संबोधन की शुरुआत  जयश्रीराम से नहीं, बल्कि ‘सियावर रामचंद्र की जय’ का नारा लगाकर किया। उन्होंने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे इस कार्यक्रम के लिए आमंत्रित किया गया। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज श्रीराम का यह जयघोष सिया-राम की धरती में ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में गूंज है। सभी देशवासियों को, विश्व में फैले करोड़ों राम भक्तों को आज के इस शुभ अवसर पर कोटि-कोटि बधाई। प्रधानमंत्री ने कहा, ये मेरा सौभाग्य है कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने मुझे आमंत्रित किया, इस ऐतिहासिक पल का साक्षी बनने का अवसर दिया। मैं इसके लिए हृदय पूर्वक श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का आभार व्यक्त करता हूं।

मोदी ने भूमि पूजन के लिए किया चांदी की कन्नी- फावड़े का इस्तेमाल

बता दें कि पीएम मोदी ने मंदिर की नींव खोदने के लिए चांदी के फावड़े का इस्तेमाल किया। इस दौरान पीएम मोदी ने नींव की ईंट पर सीमेंट लगाने के लिए चांदी की कन्नी का इस्तेमाल किया। रामलला को हरे और भगवा रंग के वस्त्र पहनाए गए हैं। रामलला के वस्त्र मखमल के कपड़े से बने हैं। इन वस्त्रों पर 9 तरह के रत्नों को लगाया गया है।

mod2

प्रधानमंत्री की मुख्य बातें

  • प्रधानमंत्री ने कहा- ‘यहां आने से पहले, मैंने हनुमानगढ़ी का दर्शन किया। राम के सब काम हनुमान जी ही तो करते हैं। राम के आदर्शों की कलियुग में रक्षा करने की जिम्मेदारी भी हनुमान जी की ही है। हनुमान जी के आशीर्वाद से श्री राममंदिर भूमि पूजन का ये आयोजन शुरू हुआ है।’ कहा- ‘आप भगवान राम की अद्भुत शक्ति देखिए। इमारतें नष्ट कर दी गईं, अस्तित्व मिटाने का प्रयास भी बहुत हुआ, लेकिन राम आज भी हमारे मन में बसे हैं, हमारी संस्कृति का आधार हैं’।
  • ‘विश्व की सर्वाधिक मुस्लिम जनसंख्या जिस देश में है वो है इंडोनेशिया। वहां रामायण के कई रूप देखने को मिलते हैं। वहां भी राम आराध्य के रूप में पूजे जाते हैं और लोगों की आस्था उनमें है दुनिया के न जाने कितने छोर हैं, जहां की आस्था में और न जाने कितने रूपों में राम को लोग आराध्य मानते हैं। अयोध्या में बनने वाला राम मंदिर सिर्फ हमारे लिए नहीं, पूरी मानवता को प्रेरणा देता रहेगा। क्योंकि राम तो सबके हैं, राम तो सबमें हैं।’
  • मोदी ने कहा- ‘इस मंदिर के बनने के बाद अयोध्या की सिर्फ भव्यता ही नहीं बढ़ेगी, इस क्षेत्र का पूरा अर्थतंत्र भी बदल जाएगा। यहां हर क्षेत्र में नए अवसर बनेंगे। पूरी दुनिया से लोग यहां आएंगे, पूरी दुनिया प्रभु राम और माता जानकी का दर्शन करने आएगी।’ मोदी ने कहा कि भारत की आस्था में राम हैं, भारत के आदर्शों में राम हैं। भारत की दिव्यता में राम हैं, भारत के दर्शन में राम हैं।

 

RELATED ARTICLES

बारामुला ग्रेनेड हमले में लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकी, एक सहयोगी भी गिरफ्तार

एफएनएन,श्रीनगर:बारामुला में शराब की दुकान पर ग्रेनेड हमला करने वाले लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकवादियों समेत एक सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है। आइजीपी कश्मीर...

ज्ञानवापी मामले में निचली अदालत में सुनवाई पर रोक, कल सुप्रीम कोर्ट करेगी सुनवाई

एफएनएन,बनारस सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि ज्ञानवापी मामले पर कल 3 बजे सुनवाई करेगी। तब तक वाराणसी की सिविल अदालत इस मामले में...

ज्ञानवापी मस्जिद में मिला शिवलिंग, वाराणसी कोर्ट ने जगह को सील करने का दिया आदेश

एफएनएन, वाराणसी : ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे के दौरान सोमवार को साक्ष्‍य के तौर पर शिवलिंग मिलने के बाद वादी पक्ष के अधिवक्‍ताओं की...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CommentLuv badge
- Advertisment -

Most Popular

बारामुला ग्रेनेड हमले में लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकी, एक सहयोगी भी गिरफ्तार

एफएनएन,श्रीनगर:बारामुला में शराब की दुकान पर ग्रेनेड हमला करने वाले लश्कर-ए-तैयबा के चार आतंकवादियों समेत एक सहयोगी को गिरफ्तार कर लिया है। आइजीपी कश्मीर...

उत्तराखंड भूस्खलन यमुनोत्री हाईवे का 15 मीटर हिस्सा धंसा, बड़े वाहनों के लिए बाधित

उत्तराखंड के यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग रानाचट्टी के पास भूस्खलन होने के कारण बड़े वाहनों के लिए अवरुद्ध हो गया है। एनएच की टीम मार्ग...

ज्ञानवापी मामले में निचली अदालत में सुनवाई पर रोक, कल सुप्रीम कोर्ट करेगी सुनवाई

एफएनएन,बनारस सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि ज्ञानवापी मामले पर कल 3 बजे सुनवाई करेगी। तब तक वाराणसी की सिविल अदालत इस मामले में...

कॉर्बेट सहित राज्य के सभी राष्ट्रीय पार्कों और चिड़ियाघरों में 12 साल तक के बच्चों की एंट्री फ्री

एफएनएन,रामनगर : विश्व प्रसिद्ध जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क आने वाले पर्यटकों के लिए अच्छी खबर है। जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में 12 साल तक...

Recent Comments