Wednesday, May 18, 2022
krishna
sarso
04
01
03
previous arrow
next arrow
Shadow
Home राज्य उत्तराखंड सवाल सुलगते रहेंगे मौत के बाद भी...

सवाल सुलगते रहेंगे मौत के बाद भी…

SPECIAL OFFERS IN GURUMAA ELECTRONICS

टरी से उतरी जिंदगी की गाड़ी ने उन्हें हमेशा के लिए मौत की नींद सुला दिया। अब राह तकते-तकते उनके अपनों की आँखें पथरा जाएं लेकिन इंतजार खत्म होने वाला नहीं है। वो हमेशा-हमेशा के लिए उनसे जुदा हो गए हैं। परिवार के लिए उनकी आशा और सरकार के प्रति निराशा भी खत्म हो गई है। लेकिन सवाल सुलगते रहेंगे, हमसे-आपसे पूंछते रहेंगे, फुस-फुसाते रहेंगे कि आखिर किसकी बेशर्मी थी इन मौतों के पीछे। भले ही व्यवस्था के आगे आपकी जुबान न हिले, गर्दन भी तटस्थ हो जाए लेकिन आँखें औऱ दिल गवाही दे देगा, बता देगा कि वो भूखे थे, बेबस और लाचार भी। लॉकडाउन ने उनकी किस्मत को लॉक कर दिया था। इंतजार ही एक मात्र रास्ता था लेकिन कब तक। घर तक पहुँचने के लिए सरकार से आशा लगाए बैठे रहे औऱ उम्मीद की डोर टूट गई। पेट की आग से बढ़कर थी परिवार की चिंता थी जो खाये जा रही थी। कोशिश थी कि जैसे भी हो अपनों तक पहुँच जाएं, ऐसे में धैर्य जबाव दिया तो टांगो को भरोसे का साथी बना लिया। निकल पड़े, फौलाद सा इरादा लेकर पहाड़ सी मंजिल की ओर। साथ में कुछ सूखी रोटी और पुलिस का डर। पकड़े न जाएं, शायद इसीलिए रेल की पटरी को सफर का हमसफर बना लिया, लेकिन टांगें अब जबाव दे चुकी थीं, कह रही थीं रुक जाओ कुछ पल के लिए लेकिन हिम्मत हौसला दे रही थी। 36 किलोमीटर पैदल चलने के बाद जब हिम्मत ने भी साथ छोड़ा तो रेल की पटरी को तकिया और पत्थरों को बिछौना बना लिया। सोचा था भोर होगी तो फिर मंजिल की ओर निकलेंगे, लेकिन नींद के झोंके ने जिंदगी को मौत की नींद सुला दिया। एक के बाद एक को वो गाड़ी रौंदते हुए निकल गई, जिसका इंतजार तो वो पिछले डेढ़ महीने से कर रहे थे। सुबह जब परिवार वालों को खबर हुई तो उनकी आंखों से निकल रहे आंसू सिर्फ इस सवाल का जवाब मांग रहे थे कि आखिर इन मौतों के पीछे जिम्मेदार कौन है। भले ही अब इन लोगों के आंसू पोछने की राजनीति को नीति में बदलने का ड्रामा हो पर जाने वाले अब कभी नहीं लौटेंगे। एक माँ का बेटा, बहन का भाई, पत्नी का सिंदूर और बच्चों के सिर से बाप का साया अब कभी अपनी मौजूदगी का अहसास नहीं कराएगा। मैं तो सिर्फ इतना कहूंगा….शर्म करो सरकार, शर्म करो।।।

कंचन वर्मा ( रुख़सत ) की कलम से

RELATED ARTICLES

भाजपा नेता संदीप कार्की की हत्या में दो सगे भाई और पिता गिरफ्तार

एफएनएन, रुद्रपुर : उधमसिंहनगर के शांतिपुरी में बीजेपी नेता संदीप कार्की की हत्या के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी सहित 3 अभियुक्तों को...

1-1 अरब की लागत से बनेगी चम्पावत व टनकपुर में सीवरेज लाइन : सीएम धामी

एफएनएन, चम्पावत : टनकपुर व चम्पावत नगरवासियों के लिए अच्छी खबर। सालों से चली आ रही टनकपुर चम्पावत की सीवरेज लाइन बनाने की मांग जल्द...

गंगोत्री-यमुनोत्री में हृदयघात से दो यात्रियों की मौत, चारों धाम में अब तक 35 ने तोड़ा दम

एफएनएन, उत्तरकाशी : चारधाम यात्रा के दौरान स्वास्थ्य के लिहाज से अनफिट यात्रियों की हृदयघात व अन्य कारणों से मौत हो रही है। इसके...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CommentLuv badge
- Advertisment -

Most Popular

भाजपा नेता संदीप कार्की की हत्या में दो सगे भाई और पिता गिरफ्तार

एफएनएन, रुद्रपुर : उधमसिंहनगर के शांतिपुरी में बीजेपी नेता संदीप कार्की की हत्या के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी सहित 3 अभियुक्तों को...

1-1 अरब की लागत से बनेगी चम्पावत व टनकपुर में सीवरेज लाइन : सीएम धामी

एफएनएन, चम्पावत : टनकपुर व चम्पावत नगरवासियों के लिए अच्छी खबर। सालों से चली आ रही टनकपुर चम्पावत की सीवरेज लाइन बनाने की मांग जल्द...

ज्ञानवापी मस्जिद में मिला शिवलिंग, वाराणसी कोर्ट ने जगह को सील करने का दिया आदेश

एफएनएन, वाराणसी : ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वे के दौरान सोमवार को साक्ष्‍य के तौर पर शिवलिंग मिलने के बाद वादी पक्ष के अधिवक्‍ताओं की...

गंगोत्री-यमुनोत्री में हृदयघात से दो यात्रियों की मौत, चारों धाम में अब तक 35 ने तोड़ा दम

एफएनएन, उत्तरकाशी : चारधाम यात्रा के दौरान स्वास्थ्य के लिहाज से अनफिट यात्रियों की हृदयघात व अन्य कारणों से मौत हो रही है। इसके...

Recent Comments