Saturday, October 8, 2022
01
03
WhatsAppImage2022-08-23at33025PM
WhatsAppImage2022-08-23at120424PM
result2022
previous arrow
next arrow
Shadow
Homeराज्यउत्तर प्रदेशशादी के सात दिन और जिंदगी का खौफनाक अंत

शादी के सात दिन और जिंदगी का खौफनाक अंत

SPECIAL OFFERS IN GURUMAA ELECTRONICS

एफएनएन, कानपुर: आठ पुलिस कर्मियों की हत्या के आरोपित मोस्ट वांटेड विकास दुबे की तलाश के बीच मंगलवार रात यूपी के हमीरपुर जिले में पुलिस ने बडी कार्रवाई की। मौदाहा में मुठभेड़ के दौरान पुलिस ने विकास दुबे के करीबी अमर दुबे को मार गिराया। अमर को विकास गैंग का सक्रिय सदस्य माना जाता था। दो जुलाई की रात बिकरू गांव में शूटआउट के मामले में भी अमर दुबे की तलाश थी। यूपी पुलिस ने जिन अपराधियों की तस्वीरें जारी की थी, उसमें अमर का नाम सबसे ऊपर था। उस पर 25 हजार का इनाम भी घोषित किया था। वह विकास दुबे के चचेरे भाई का लड़का था।

असलहे से लैस रहता था अमर

अमर दुबे विकास के पर्सनल बॉडी गार्ड का भी काम करता था। वो हमेशा असलहे से लैस रहता था। पुलिस को अमर के विकास दुबे के साथ ही भागने की जानकारी तब हुई जब पुलिस को उसकी फोर्ड कार औरैया-दिबियापुर हाइवे पर मिली थी। कार के अंदर मिले दस्तावेजों से अमर के लखनऊ स्थित घर का पता चला था।

इसी 29 को हुई थी शादी

एनकाउंटर में मारे गए अमर दुबे की इसी 29 जून 2020 को शादी हुई थी। अमर दुबे, विकास के चचेरे भाई संजय दुबे का बेटा है। अमर के सगे चाचा अतुल और विकास दुबे के मामा प्रेम प्रकाश का 3 जुलाई को पुलिस ने बिकरू गांव के पास एनकाउंटर किया था. अमर अपने चाचा अतुल दुबे के साथ विकास दुबे का मुख्य शूटर था।

ऐसे मारा गया अमर दुबे

अमर दुबे की छिपे होने की सूचना पर पुलिस टीम ने घेराबंदी की थी। इस दौरान अमर ने फायरिंग शुरू कर दी. जवाबी एनकाउंटर में वह मार गिराया गया। उसके पास से एक ऑटोमेटिक हथियार और बैग मिला है। इस एनकाउंटर में एसओ और एसटीएफ के एक कॉन्स्टेबल को गोली लगी है। इस बीच एसटीएफ विकास दुबे को तो नहीं पकड़ पाई, लेकिन उसने प्रभात और अंकुर नाम के उसके दो करीबियों को गिरफ्तार कर लिया है. अंकुर के बारे में बताया जाता है कि उसी ने फरीदाबाद में विकास दुबे के छिपने में मदद की थी. वो विकास दुबे के लिए होटल बुक करने की कोशिश कर रहा

RELATED ARTICLES
- Advertisment -spot_img
spot_img

Most Popular

Recent Comments