Thursday, May 26, 2022
krishna
sarso
04
01
03
previous arrow
next arrow
Shadow
Home राज्य उत्तर प्रदेश यूपी पुलिस की जांच में बड़ा खुलासा, पीड़ित परिवार और आरोपी के...

यूपी पुलिस की जांच में बड़ा खुलासा, पीड़ित परिवार और आरोपी के बीच 104 बार हुई बात

SPECIAL OFFERS IN GURUMAA ELECTRONICS

  • पिछले साल 13 अक्टूबर को बातचीत का सिलसिला हुआ था शुरू

एफएनएन, हाथरस : हाथरस कांड की जांच में नया खुलासा हुआ है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने पड़ताल में पाया है कि पीड़ित परिवार और मुख्य आरोपी संदीप फोन के जरिए आपस में संपर्क में थे। पीड़ित परिवार और संदीप के बीच फोन पर बातचीत का सिलसिला पिछले साल अक्टूबर में शुरू हुआ था। पीड़ित परिवार और आरोपी के बीच 104 बार फोन पर बातचीत हुई। हाथरस कांड में पुलिस ने आरोपी और पीड़ित परिवार के कॉल रिकॉर्ड को खंगाला तो पाया कि बातचीत का सिलसिला पिछले साल 13 अक्टूबर को शुरू हुआ। ज्यादातर कॉल चंदपा क्षेत्र से ही कई गई है, जो पीड़िता के गांव से महज 2 किमी की दूरी पर है। इसमें से 62 कॉल वो हैं, जो पीड़ित परिवार की ओर से की गई तो वहीं 42 कॉल आरोपी संदीप की ओर से की गई थी। यूपी पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि पीड़ित परिवार और आरोपी संदीप के बीच नियमित अंतराल पर बात हुई। आरोपी संदीप को कॉल पीड़िता के भाई की ओर से की गई थी। इस बीच, स्पेशल इंवेस्टिगेशन टीम की जांच भी अंतिम दौर में है। एसआईटी अपनी रिपोर्ट बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंप सकती है। गृह सचिव भगवान स्वरूप की अगुवाई में डीआईजी चन्द्र प्रकाश और एसपी पूनम ने केस की जांच की है। बता दें एसआईटी ने पिछले हफ्ते जांच शुरू की थी और सात दिनों में रिपोर्ट सौंपने की बात कही थी। एसआईटी की टीम चंदपा के उस गांव भी पहुंची थी, जहां की पीड़िता रहने वाली थी. एसआईटी ने पीड़िता के परिवारवालों का बयान भी लिया।

यह है पूरा मामला

हाथरस की बेटी का 14 सितंबर को हाथरस में गैंगरेप किया गया था। आरोप है कि युवती का जीभ को काट दिया गया था। रीढ़ की हड्डी भी तोड़ दी गई थी। हैवानियत का शिकार हुई युवती को इलाज के लिए अलीगढ़ के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बाद में उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई थी। इस केस में 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. जिसमें संदीप भी शामिल है। वहीं, पीड़िता का रात में दाह संस्कार कराने को लेकर प्रशासन निशाने पर था। गैंगरेप की शिकार दलित लड़की के पिता हो या भाई, चाचा हो या कोई अन्य रिश्तेदार, सब एक सुर से पुलिस पर जबरन दाह संस्कार कराने का आरोप लगा रहे हैं। योगी सरकार ने इस पूरे मामले में लापरवाही बरतने के कारण हाथरस के डीएसपी और एसपी को सस्पेंड कर चुकी है और वहीं, केस की सीबीआई जांच के आदेश भी दे दिए गए हैं।

RELATED ARTICLES

कपिल सिब्बल ने सपा से राज्यसभा के लिए किया नामांकन

एफएनएन,उत्तरप्रदेश: राज्यसभा के 11 सदस्यों का कार्यकाल चार जुलाई को समाप्त हो रहा है। इन 11 सीट के लिए दस जून को होने वाले...

ज्ञानवापी परिसर हिंदू पक्ष को सौंपने और पूजा-पाठ की मांग पर सुनवाई आज

एफएनएन,ज्ञानवापी: परिसर हिंदुओं को सौंपने व पूजा-पाठ की मांग के साथ ही इसमें मुस्लिम पक्ष के प्रवेश पर रोक की मांग को लेकर दायर...

दरोगा पर पत्नी का आरोप,दोस्तों से संबंध बनाने का बनाता था दबाव

एफएनएन,कानपुर: अनवरगंज थाना क्षेत्र में एक विवाहित युवती ने अपने दरोगा पति पर दोस्तों से संबंद्ध बनाने का दबाव बनाने का आरोप लगाया। पुलिस...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

CommentLuv badge
- Advertisment -

Most Popular

चंपावत : प्रचार में झोंकी ताकत, टनकपुर में सीएम धामी का रोड शो, जनसभा में कहा-एक मॉडल के रूप विकसित होगा क्षेत्र

एफएनएन, टनकपुर : मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को टनकपुर में रोड शो किया। इसके बाद उन्होंने जनसभा को संबोधित किया। सीएम धामी...

हल्द्वानी में धारदार हथियार से वार कर युवक की निर्मम हत्या, खेत में मिला मृतक का शव

एफएनएन, हल्द्वानी : हल्द्वानी के मुखानी थाना क्षेत्र के मल्ला बमोरी में युवक की धारदार हथियार से वार कर निर्मम हत्या कर दी गई।...

उत्‍तराखंड : हेली सेवाओं को लगेंगे पंख, बनाए जाएंगे 31 नए हेलीपैड

एफएनएन, देहरादून : पर्यटन एवं तीर्थाटन के दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण देवभूमि की वादियों की हवाई सैर अब आसान और सुलभ होगी। सैलानियों को आकर्षित...

माता-पिता को प्रताड़ित करने वाले बच्चे होंगे घरों से बाहर, हरिद्वार कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला

एफएनएन, हरिद्वार : माता-पिता की सेवा करने की बजाय उन्हें प्रताड़ित करने वाले बच्चों को सचेत होने की जरूरत है। हरिद्वार एसडीएम कोर्ट ने...

Recent Comments